computer ki pidhiyan कम्प्यूटर की पीढियां

By | May 11, 2016

दूसरे विश्व युद्ध के बाद कंप्यूटर का विकास बहुत तेजी से हुआ और उनके आकार-प्रकार में भी बहुत तेजी से परिवर्तन हुए।

कम्प्यूटर की पीढ़ियाँ
प्रथम
1940-56 इसमें वैक्यूम ट्यूब का प्रयोग किया गया था। स्टोरेज के लिए मैग्नेटिक ड्रम का प्रयोग किया गया। इसकी गति 333 माइक्रो सेकेण्ड के आसपास थी। इसमें बैच आपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग होता था। इसकी भाषा मशीनरी भाषा (1और0) थी। इसका प्रयोग मुख्यतः वैज्ञानिक किया करते थे। इसकी विशेषता मुख्य भंडारण क्षमता थी।
उदारहण- ENIAC, UNIVAC, MARK-1 आदि।
द्वितीय
1956-63 इसमें ट्रांजिस्टर का प्रयोग किया गया था। स्टोरेज के लिए मैग्नेटिक कोर टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया गया। इसकी गति 10 माइक्रो सेकेण्ड के आसपास थी। इसमें मल्टी बैग, रिमेनिंग, और टाइम शेयरिंग आपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग होता था। इसकी भाषा एसेम्बली भाषा, उच्च स्तरीय भाषा थी। इसका उपयोग व्यापक रूप से व्यवसाय में किया गया।
तृतीय पीढ़ी
1964-71 इसमें इंटीग्रेटेड सर्किट(IC) का प्रयोग किया गया था। स्टोरेज के लिए मैग्नेटिक कोर का प्रयोग किया गया। इसकी गति 100 नैनो सेकेण्ड के आसपास थी। इसमें रियल टाइम / टाइम शेयरिंग आपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग होता था। भाषा में फोरट्रान , कोबोल आदि का प्रयोग किया गया। इसमें चुम्बकीय कोर और सॉलिड स्टेट मुख्य भंडारण के रूप में उपयोग हुआ। रिमोट प्रोसेसिंग, इनपुट आउटपुट में नियंत्रण के लिए सॉफ्टवेयर का प्रयोग हुआ।
इसका उपयोग डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम, ऑनलाइन सिस्टम, रिजर्वेशन सिस्टम आदि में होने लगा।
उदाहरण-IBM SYSTEM/360, NCR 395, B6500
चतुर्थ पीढ़ी
1971-अब तक
इसमें बड़े पैमाने पर इंटीग्रेटेड सर्किट/ माइक्रो प्रोसेसर का प्रयोग किया गया। स्टोरेज के लिए सेमीकंडक्टर मेमोरी, विचेस्टर डिस्क का प्रयोग किया गया। इसकी गति 300 नैनो सेकेण्ड के आसपास थी। इसमें टाइम शेयरिंग नेटवर्क्स, विंडोज, लिनक्स आदि आपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग होता था। भाषा में फॉरट्रान 77, पास्कल, एडीए, कोबोल 74 भाषा का व्यापक प्रयोग हुआ। इसका उपयोग इलेक्ट्रानिक फंड ट्रान्सफर, व्यावसायिक उत्पादन और व्यक्तिगत उपयोग बहुत ज्यादा होने लगा है।
उदाहरण- IBM, PC-XT, APPLE-2, INTEL 4004 CHIP
पंचम पीढ़ी
वर्तमान से आगे
इस पीढ़ी के कंप्यूटर में सबसे बड़े पैमाने पर इंटीग्रेटेड सर्किट का प्रयोग हुआ। स्टोरेज के लिए ऑप्टिकल डिस्क का प्रयोग होने लगा। आर्टिफिशल इंटेलिजेंस इस पीढ़ी की मुख्य विशेषता है। इंफॉर्मेशन मैनेजमेंट नैचुरल लैन्वेज, प्रोसेसिंग स्पीच कैरेक्टर, इमेज रिकॉग्निशन आदि से इसका उपयोग बढ़ा है।

Read Also-  Input Device In hindi इनपुट डिवाइस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *