UGC NET Exam क्या है- Net Exam ki puri jankari hindi me

UGC NET Exam राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा भारत में एक राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा है| UGC 1956 में भारत सरकार द्वारा स्थापित एक वैधानिक संगठन है| जो विश्वविद्यालयों के शिक्षा स्तर के समन्वय निर्धारण और रखरखाव के लिए जिम्मेवार है| यही संगठन है, जो भारत के विश्विद्यालयों को मान्यता प्रदान करता है| और उनके लिए आवश्यक धनराशी वितरित करता है| UGC का मुख्यालय नई दिल्ली में है, और इसके छह क्षेत्रीय केंद्र भोपाल, पुणे, गुवाहाटी, बंगलौर, कोलकता और हेदराबाद है| UGC NET Exam UGC NET Exam UGC NET Exam

What is the UGC Net Exam यूजीसी नेट परीक्षा क्या है 

राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा, विश्विद्यालय अनुदान आयोग (UGC) द्वारा आयोजित एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है| इस परीक्षा में पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों को भारत में विश्विद्यालय स्तर की शिक्षा की नौकरी के लिए योग्यता प्राप्त करने और पीएचडी स्तर के कार्यक्रमों में प्रवेश लेने की सुविधा मिलती है| UGC नेट परीक्षा यह सुनिश्चित करती है, की एक उम्मीदवार शिक्षण व्यवसाय और अनुसंधान में न्यूनतम मानकों के लिए पास हो| यह परीक्षा मानविकी भाषाओँ सहित सामजिक विज्ञान, पर्यावरण विज्ञान, फ़ॉरेंसिक विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान व अनुप्रयोगों और इलेक्ट्रॉनिक विज्ञान में आयोजित की जाती है|

Age Criteria आयु के मापदंड 

1. जूनियर रिसर्च फैलोशिप परीक्षा के समय 28 वर्ष से ज्यादा नही होनी चाहिए|

Also Read-  IES EXAM परीक्षा की जानकारी मापदंड और पैटर्न Criteria and Patterns

2. सहायक प्रोफेसर के लिए कोई उपरी आयु सीमा नही होती है|

Educational Qualification शैक्षिक योग्यता 

1. जिन उम्मीदवारों ने अपनी मास्टर डिग्री में कम से कम 55 प्रतिशत अंक प्राप्त किए है|

2. जो उम्मीदवार अपनी मास्टर डिग्री के अंतिम वर्ष में है वो इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है|

 

Notification of UGC Exam यूजीसी परीक्षा की अधिसूचना 

1. यह UGC नेट परीक्षा एक वर्ष में दो बार जून और दिसम्बर में आयोजित की जाती है|

2. जून की परीक्षा की अधिसूचना मार्च महीने में और दिसम्बर परीक्षा की सितम्बर में आती है|

यूजीसी नेट उतीर्ण के बाद करियर (Career After Clear UGC Net)

यूजीसी (UGC) नेट को पास करने के बाद, आप विशुद्ध विश्विद्यालयों में लेक्चरर बनने या जूनियर रिसर्च फैलोशिप के योग्य बन जाते है| समय समय पर रिक्तियों की विज्ञप्ति जारी होती है, इसके लिए आप को आवेदन करना होगा|

व्याख्याता (Lecturer)

एक बार जब आप नेट पास कर लेते है, तो आप कॉलेज और विश्विद्यालयों द्वारा रिक्त पदों की घोषणा करते समय व्याख्याता पद के लिए आवेदन कर सकते है| आप की अंतिम नियुक्ति इस बात पर निर्भर करती है, की सम्बंधित विश्विद्यालय या कॉलेज द्वारा आयोजित साक्षात्कार में आप कितने अच्छे है|

Also Read-  Railway ticket collector TTE kaise bane. How to become TTE in Hindi

जूनियर रिसर्च फैलोशिप (Junior Research Fellowship)

जब आप एक बार नेट पास कर लेते है, तो आप किसी भी प्रतिष्ठित विश्विद्यालय या अनुसंधान का पीछा कर सकते है, और ट्यूशन फीस की प्रतिपूर्ति कर सकते है| कुछ विश्वविद्यालयों में छात्रों को भी एमफिल कार्यक्रमों में सीधे प्रवेश मिलता है|

परीक्षा पैटर्न (Exam Pattern)

इस परीक्षा में तीन प्रश्नपत्र होते है, और तीनों प्रश्नपत्र प्रकृति का उदेश्य के होते है|

प्रश्नपत्रअंकप्रश्नों की संख्यासमय घंटे में
प्रश्नपत्र 110060 प्रश्न होंगे जिसमें 50 का जबाब देना होगा1.15
प्रश्नपत्र 210050 प्रश्न होंगे सभी अनिवार्य है1.15
प्रश्नपत्र 315075 प्रश्न होंगे सभी अनिवार्य है2.30

प्रश्नपत्र 1

1. यह प्रश्नपत्र उम्मीदवार की तर्क क्षमता, समझ, भिन्न सोच सामान्य जागरूकता का आंकलन करेगा|

2. इस प्रश्नपत्र में 60 प्रश्न होते है आप को 50 का जबाब देना होता है, प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होता है|

प्रश्नपत्र 2 

1. यह प्रश्नपत्र उम्मीदवार द्वारा चुनने गये विषय पर आधारित होगा|

2. इसमें 50 प्रश्न होंगे, जो सभी अनिवार्य होंगे और प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा|

प्रश्नपत्र 3 

1. इस प्रश्नपत्र में उम्मीदवार स्वयं विषय चुनेगा और उसी से प्रश्न पूछे जाएगे|

2. इस में 75 प्रश्न पूछे जाएगें, जो सभी अनिवार्य है, उदेश्य प्रकार के होते है और प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *