O Level Course के बारे में पूरी जानकारी NIELIT and DOEACC

O Level Course के बारे में पूरी जानकारी course करके आसानी से किसी भी प्राइवेट या सरकारी जगह पर जॉब पा सकते हैं हमने बहुत ऐसी कंप्यूटर कोर्स के बारे में बताया है और अन्य course के बारे में बताए और एग्जाम के बारे में बताया है लेकिन आज हम आपको एक बहुत ही फायदेमंद और रोचक जानकारी इस पोस्ट में बताएंगे यह आपके लिए बहुत ही जरूरी पोस्ट है तो इसे आप अच्छी तरह से पढ़ाई क्योंकि इसके अंदर हम आपको आज बताएंगे कि o level कोर्स क्या होते हैं जी हां दोस्तों बहुत से लोग यह नहीं जानते कि O Level कोर्स क्या होते हैं.

लेकिन कई लोगों को पता होता है और भी उसको course को करना चाहते हैं और फिर उन्हें किसी तरह की जानकारी नहीं मिल पाने के कारण इस कोर्स को नहीं कर पाते क्योंकि उनको पहले थोड़ी बहुत जानकारी होना बहुत ही जरुरी है ताकि उनको पता चले कि यह चीज किस से संबंधित course होते है और इससे हम आगे किस क्षेत्र में जा सकते हैं इसलिए स्टूडेंट जानकारी ना मिल पाने के कारण इस कोर्स को नहीं करते लेकिन दोस्तों आज हम आपको यंहा पर एक बहुत ही बढ़िया और फायदेमंद जानकारी देंगे हैं

और इस जानकारी को पढ़कर आप एक बहुत ही अच्छा फैसला ले सकते हैं क्योंकि कई बार किसी स्टूडेंट को यह भी नहीं पता होता कि इसमें किस से संबंधित प्रोजेक्ट, सब्जेक्ट, और प्रैक्टिकल आती हैं और इस का एग्जाम किस तरह से होता है इसकी फीस कितनी होती है इसका रजिस्ट्रेशन कैसा होता है इसका रिजल्ट कैसे आता है इस तरह की बहुत सी चीजों के बारे में कई स्टूडेंट्स नहीं जानते और वह बिना ही जानकारी कई बार o level के कोर्स को करने लग जाते हैं.

उनको बाद में पता चलता है तो उन्हें बाद में बहुत दिक्कत होती है जिससे कि उन्हें कई बार बीच में भी इसको उसको छोड़ना पड़ता है तो आज हम आपको इस में पूरी जानकारी बताओ बताएंगे इसके फीस ,सब्जेक्ट्स ,बुक ,और एग्जाम ,रजिस्ट्रेशन, प्रैक्टिकल ,प्रोजेक्ट ,रिजल्ट, o level course meaning , o level syllabus in hindi, o level computer course syllabus, o level course details in hindi.

O Level कोर्स क्या है और O Level कोर्स करने के क्या फायदे है

O Level कोर्स भारत सरकार संगठन द्वारा चलाए गए हैं NIELIT (National Institute of Electronics & Information Technology) जिस का पूरा नाम DOEACC (Department of Electronics and Accreditation of Computer Classes) था लेकिन इसको बहुत सी कंपनियां चलाती है यानी ऑपरेटेड करती है जिनके बारे में हम आपको नीचे कुछ जानकारी दे रहे हैं इनके बारे में आप पढ़ सकते हैं.

Also Read-  भौतिकी की राशियां-अदिश राशि, सदिश राशि, मूल मात्रक, व्युत्पन्न मात्रक।

1.CCC

सबसे पहले हम बात करेंगे दोस्तों CCC कोर्स की, हमने CCC कोर्स के बारे में तो हमने आपको हमारी वेबसाइट पर पहले भी पोस्ट की है और उसके बारे में पूरी जानकारी आपको दी है लेकिन हम आपको बता देंगे CCC एक कंप्यूटर कोर्स है जो कि भारत सरकार द्वारा चलाया गया है. इसके अंदर आप को कंप्यूटर की सारी बेसिक चीजों के बारे में बताया जाता है जैसे कि कंप्यूटर की हिस्ट्री चेक करना है म्यूजिक चलाना और कंप्यूटर में पेंटिंग आदि के बारे में बताया जाता हैं और कंप्यूटर के Microsoft ऑफिस के अंदर आपको सारी जानकारी दी जाती है और अगर आप इस कोर्स को पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद मैं आपको इसका एक डिप्लोमा या सर्टिफिकेट भी मिलता है और ज्यादा जानकारी लेने के लिए आप हमारी पिछली पोस्ट को देख सकते हैं उसमें हमने आपको सीसीसी क्या है सीसीसी के ऑनलाइन फॉर्म कैसे अ

2.O Level

प्लाई करें और सीसीसी ऑनलाइन सर्टिफिकेट और एडमिट कार्ड कैसे डाउनलोड करें इनके बारे में पूरी जानकारी दी है.

हम अब आपको बताएंगे o level के बारे में o level कोर्स क्या होता है इसमें हम बुनियादी कोर्स कंप्यूटर एप्लीकेशन भी कहते हैं क्योंकि o level कोर्स करने से आपका कंप्यूटर एप्लीकेशन का काम पूरा हो जाता है और इस को करने के बाद आप किसी भी यूनिवर्सिटी के CS डिप्लोमा के बराबर वाले छात्रों के बराबर हो जाते हैं क्योंकि आप का डिप्लोमा भी उसी से संबंधित हो जाते हैं.

3.A Level

दोस्तों हम आपको बता दें कि ए लेवल डिप्लोमा एक ऐसा डिप्लोमा होता है क्योंकि यह एक यह एक एडवांस डिप्लोमा होता है और किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी PGDCA (Post Graduate Diploma in Computer Application) के के बराबर होता है इसलिए अब इस डिप्लोमा को भी कर सकते हैं.

4.B Level

यह कुछ भी एक बहुत ही अच्छा कोर्स है क्योंकि अगर आप इस कोर्स को कर लेते हैं तो आप किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी के MCA (Master in Computer Applications) करने वाले स्टूडेंट्स के बराबर होते हैं MCA (Master in Computer Applications) डिग्री के समान आपको इस कोर्स के करने के बाद माना जाता है.

5.C Level

यह कोर्स किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी के M.Tech के बराबर होता है यानि मास्टर इन टेक्नोलॉजी डिग्री के बराबर इस कोर्स को समझा जाता है.

O level course के फायदे

दोस्तों आप सभी जानते भी होंगे और अगर नहीं जानते हैं तो हम आपको आज बता देते हैं इस पोस्ट में यदि आप किसी भी सरकारी जॉब के लिए अप्लाई करते हैं तो उसके अंदर आपको अपना कंप्यूटर डिप्लोमा देना बहुत ही देना होता है अगर आपके पास कंप्यूटर डिप्लोमा नहीं है तो आप जॉब के लिए अप्लाई नहीं कर सकते हैं. और यदि आपके पास डिप्लोमा है तो आप उसके अंदर अप्लाई कर सकते हैं और आजकल तो लगभग सभी प्राइवेट कंपनियों में भी कंप्यूटर डिप्लोमा मांगा जाता है इसलिए आप के लिए सबसे जरूरी यह की आपके पास कंप्यूटर डिप्लोमा होना चाहिए है .

Also Read-  Bharat ke national park भारत के नेशनल पार्क

आपको कंप्यूटर डिप्लोमा अवश्य लेना चाहिए या आपके आने वाले समय में आपके लिए बहुत ही जरूरी और फायदेमंद साबित होगा यदि आप A और B ग्रेड की किसी भी प्रकार की जॉब के लिए अप्लाई करते हैं तो उसके आपसे O Level के कोर्स का डिप्लोमा मांगा जाता है इसी तरह से यदि आप Cऔर D ग्रेड की किसी भी तरह की गवर्नमेंट जॉब में अप्लाई करना चाहते हैं तो उसके लिए आपके पास ccc कोर्स जरूरी होना चाहिए इसलिए अगर आप किसी भी तरह की गवर्नमेंट जॉब में कभी भी अप्लाई करोगे तो आपके पास गवर्नमेंट जॉब में ccc कोर्स और O Level के कोर्स को जरूर मांगा जाएगा तो. लेकिन आपको यह बात ध्यान में रखनी चाहिए अगर आप कोर्स नहीं करोगे तो आपके लिए कभी भी जॉब मिलने के चांस नहीं है इसलिए सबसे जरूरी है. तो आप O Level कोर्स या CCC कोर्स जरूर करें.

O level course सिलेबस क्या है

O Level कोर्स यदि आप करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि वह लेवल कोर्स के अंदर आपको 4 विषय आपको मिलते हैं इन चारों विषयों के एक एक एग्जाम यानी पेपर होते हैं और इन चारों पेपरों के साथ इन सब्जेक्ट का प्रैक्टिकल और प्रोजेक्ट भी होता है O Level कोर्स के अंदर M1-R4, M2-R4 aur M3-R4 सब्जेक्ट कंपलसरी होते हैं यह तो आपको लेने ही पड़ते हैं.

दोस्तों यदि आप O Level कोर्स को कर रहे हैं तो हम आपको बता दें कि आपको कौन से सब्जेक्ट को लेना चाहिए यदि आप M4-R4 पेपर के तीन पेपर में से सिर्फ एक ही पेपर आपको देना होता है और आपकी सारी यह आपके ऊपर निर्भर करता है यदि हम आपको राय दे तो हमारी ओर से आपके लिए यही राय है कि आपM4. 2-R4 ya M4 3-R4 इन में से किसी एक को चुन सकते हैं क्योंकि यह बहुत ही सिंपल होते हैं

Also Read-  Bhushan ka jivan parichay भूषण

M1-R4 (IT Tools and Business System)

इस विषय में कंप्यूटर के number system, input parts, output parts, memory parts, CPU ke work process, operating system aur microsoft office applications (word, powerpoint, excel, access) से संबंधित कुछ प्रशन उत्तर आप के एग्जाम में आते हैं यदि आपकी रुचि इन सभी चीजों में है तो आप को चुन सकते हैं

M2-R4 (Internet Technology and Web Design)

इस विषय के अंदर आपको लगभग internet, networking से संबंधित काम ज्यादा आता है और इसके अलावा इसके अंदर fundamentals, email use, HTML, javascript aur VB script से संबंधित प्रश्न उत्तर आप के एग्जाम में आते हैं और यदि आप इसके अंदर ज्यादा रुचि रखते हैं आपको यह लगभग जल्दी ही समझ में आ जाएंगे

M3-R4 (C Programming )

हम आपको बता दें कि अब हम आपको बताएंगे वह सब्जेक्ट लगभग सभी स्टूडेंट्स को सबसे ज्यादा कठिन होता है क्योंकि इसके अंदर बहुत ही सामने आती है जी हां दोस्तों इसके अंदर सी C भाषा प्रोग्रामिंग आती है और यह सब्जेक्ट आपके लिए हार्ड इसलिए क्योंकि कंपलसरी सब्जेक्ट है इसलिए आपके लिए ज्यादा पढ़ने की जरूरत होती है

M4 1-R4 (.Net Programming)

सी प्रोग्रामिंग की तरह होता है इसमें भी नेट प्रोग्रामिंग ज्यादा आती है लेकिन यह सब्जेक्ट यदि आप नहीं चाहते तो इसको आप छोड़ भी सकते हैं आपके ऊपर डिपेंड करता है यदि आप लेना चाहते हैं तो इस सब्जेक्ट को ले भी सकते हैं और वैसे कोई जरूरत भी नहीं है. आपको राय देता हूं कि ज्यादातर स्टूडेंट्स M4 2-R4 ya M4 3-R4 इन विषयों को chuनते हैं,

M4 2-R4 (Introduction to Multimedia)

इस विषय में मल्टीमीडिया घटकों जैसे colors, fonts, audio fundamentals, image fundamentals aur video aur animation (photoshop and flash) आदि से संबंधित आप के प्रशन आते हैं यह प्रशन आपके आगरा में आपको देने पड़ते हैं तो इस सब्जेक्ट में आपको इन प्रशन से संबंधित ज्यादा तैयारी करनी पड़ती है तो आप इस विषय को भी सुन सकते हैं.

M4 3-R4 (ICT Re)

यदि हम बात करें दोस्तों इस विषय की तो यह विषय में आपको आदि से संबंधित थोड़ा सा एडवांस्ड कांसेप्ट मिलता है और इससे संबंधित आपको इसके अंदर प्रश्न के उत्तर देने पड़ते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *