Web Designing की पूरी जानकारी Front End & Back End Web Designing

Web Designing की पूरी जानकारी आपने वेबसाइट के अलग-अलग डिजाइन को देखा होगा। जब भी आप किसी वेबसाइट पर जाते हैं तो आप उसके वेबसाइट के डिजाइन को देखते हैं उसके कंटेंट को पढ़ते हैं उसके सजावट को देखते हैं तो यह सब डिपेंड करता है कि उसकी डिजाइनिंग कैसे हुई है। आज हम इसी बारे में बात करेंगे की वेबसाइट डिजाइनिंग क्या होता है और इसको कैसे किया जाता है इस के लिए क्या क्वालिफिकेशन होनी चाहिए और इसके लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए। अगर आपको कंप्यूटर का ज्ञान है तो आपको वेब डिजाइन का थोड़ा बहुत जरुर पता होगा कहां से शुरू होती है उसको कैसे किया जाता है।

Web Designing की पूरी जानकारी

अगर आप ऑनलाइन पैसा कमाना चाहते हैं। तो आप को वेब डिजाइन की नॉलेज होना बहुत ही जरुरी है क्योंकि इसके बिना आप इंटरनेट पैसा नहीं कमा सकते हैं। जब लोग किसी वेबसाइट का डिजाइन अच्छा देखते हैं उस पर बार बार विजिट करते हैं। जिससे पैसा कमाने के चांस बढ जाते है।

वेब डिजाइनिंग क्या है

इंटरनेट पर वेबसाइट बनाना एक घर बनाने जैसा है जैसे हम घर बनाने के लिए पहले जमीन खरीदते हैं उसी तरह वेबसाइट बनाने के लिए पहले हम Hosting खरीदते हैं जिसके ऊपर हमारी वेबसाइट बनती है उसके बाद में हम वेबसाइट का डिजाइन तैयार करते हैं जैसे कि किसी घर का नक्शा तैयार करते हैं और उस नक़्शे को देखते हुए हम पूरा घर बनाते हैं वैसे ही वेबसाइट का डिजाइन को देखते हुए एक पूरी वेबसाइट तैयार होती है और इसे ही वेब डिजाइनिंग कहते हैं.

Also Read-  नीट परीक्षा NEET Exam की जानकारी NEET UG Exam Process

वेब डिजाइनिंग के दो भाग होते हैं जैसा की मैंने बताया पहले डिजाइन तैयार होता है जिसे हम फ्रंट एंड डिजाइन करते हैं और फिर उस डिजाइन को देख कर कोडिंग की मदद से पूरी वेबसाइट बनाए जाएगी इस कोडिंग को बेक एंड डिजाइनिंग कहते है तो यह दोनों अलग अलग तरह से होते हैं इन दोनों का अपना अलग-अलग काम है जो कि नीचे दिया गया है

फ्रंट एंड वेब डिजाइनिंग

जैसा कि नाम से ही पता लग रहा है की फर्स्ट एंड वेब डिजाइनिंग सामने की डिजाइनिंग करने से होता है। जैसा कि हम घर के बाहर कलर करके इसे सुंदर बनाते हैं उसी तरह फ्रंट एंड डिजाइनिंग का काम होता है। इस में यह ध्यान रखा जाता है कि कौन सी चीजें कहां पर रखी जाए जिससे कि आने वाले यूजर को कंटेंट ढूंढने में ज्यादा परेशानी ना हो। आपने कोई फूल का पौधा देखा होगा जिसमें फूल सुंदरता को दर्शाता है। इसी फूल को हम फ्रंट एंड वेब डिजाइनिंग मान सकते हैं और जो नीचे का जो तना है उसको हम बॅक एंड वेब डिजाइनिंग मान सकते हैं।

Back End Web डिजाइनिंग

आप Back End वेब डिजाइनिंग को किसी भी वेबसाइट की नींव की तरह मान सकते हैं। यह डिजाइनिंग यूजर को दिखाई नहीं देती है लेकिन वेबसाइट बनाने में इसका सबसे बड़ा हाथ होता है। बैक एंड वेब डिजाइनिंग से वेबसाइट का मालिक कई तरह की चीजो पर रोक लगा सकता है ताकि आप वो चीज ना खोल पाये।

Also Read-  CDS Exam की जानकारी पात्रता, पाठ्यक्रम, परीक्षा पैटर्न

वेब डिजाइनिंग सीखने के लिए क्या करें

सही मायने में वेब डिजाइनर बनने के लिए आपको फ्रेंड एंड और बॅक एंड दोनों तरह की डिजाइनिंग आना बहुत ही जरूरी है। इसके लिए हम आपको बता रहे हैं कि आपको कौन कौन से प्रोग्राम सीखने की जरूरत है जिससे कि आप एक अच्छे वेब डिज़ाइनर बन सकते हैं।

Front End Web डिजाइनिंग के लिए कौन सा कोर्स करें

फ्रंट एंड वेब डिजाइनिंग के लिए आपको फोटोशॉप का बेसिक कोर्स करना होगा। जिससे आप किसी भी वेबसाइट का प्रिंट बना सकते हैं। इसके बाद आपको html यानी कि हायपर टेक्स्ट markup लैंग्वेज सीखने की जरूरत है। जिससे आप किसी भी वेबसाइट का ढांचा बना सकते हैं। यह एक कंप्यूटर लैंग्वेज है जोकि कोड के दवारा वेबसाइट का डिजाइन करती है। html सीखने के बाद आप css सीखने की कोशिश करें। HTML हमारी वेबसाइट को ढांचा बनाने का काम करती है और CSS हमारे उसी ढांचे को डिजाइन में तब्दील करने का काम करती है। इसके बाद आप जावास्क्रिप्ट की प्रोग्रामिंग सीखना शुरु कर दें। जावास्क्रिप्ट में ऐसा डिजाइन होता है जिससे कि किसी भी एक्शन को कैप्चर किया जा सके। जैसे कि आप किसी वेबसाइट पर जाकर किसी आइकॉन पर क्लिक करते हैं और वहां पर आपको नए कंटेंट दिखाए जाते हैं यह काम जावास्क्रिप्ट होता है।

Back End वेब डिजाइनिंग के लिए कौन सा कोर्स करें

जैसा की हमने आपको पहले बताया है कि बैक एंड वेब डिजाइनिंग का क्या काम होता है। उसी के आधार पर हम आपको नीचे कुछ ऐसे प्रोग्राम के बारे में बता रहे हैं जिनसे आप बैक एंड वेब डिजाइनिंग कर सकते हैं।

Also Read-  CA Kaise Bane, सी.ए. कैसे बने, जानिए सी.ए. बनने की पूरी प्रक्रिया

इसके लिए सबसे आसान लैंग्वेज PHP लैंग्वेज है वैसे आप यह वेब डिजाइनिंग और दूसरी लैंग्वेज में भी कर सकते हैं लेकिन PHP सबसे आसान लैंग्वेज है। और facebook को भी php लैंग्वेज में ही बनाया गया है। अगर आप इस से भी हाई लैंग्वेज का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप डाटाबेस लैंग्वेज भी सीख सकते हैं। इस प्रकार की लैंग्वेज में अब किसी का भी डाटा स्टोर कर सकते हैं वैसे आप डाटा PHP में भी सेव कर सकते हैं। तो यह दो लैंग्वेज है जिसके आप बैक एंड वेब डिजाइनिंग कर सकते हैं।

अगर आप फ्रंट एंड और बैक एंड डिजाइनिंग सीख लेते हैं तो आप एक अच्छे लेवल के वेब डिज़ाइनर बन जाएंगे। और आप अच्छे पैसे घर बैठे कमा सकते हैं या किसी कंपनी में भी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आने वाले समय में वेब डिजाइनर की बहुत ज्यादा जरूरत पड़ने वाली है क्योंकि धीरे धीरे सारा काम इंटरनेट तक सीमित होता जा रहा है। इसके लिए आपको थोड़ी मेहनत करने की जरुरत है। अगर आप सही ढंग से मेहनत करते हैं तो आप इस में अच्छे पैसे कमा सकते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *